Gangrene – किसी अंग के सर्ड जाने का सब से असरदार आयुर्वेदिक इलाज
Doon library

Gangrene – किसी अंग के सर्ड जाने का सब से असरदार आयुर्वेदिक इलाज

मित्रों काई बार चोट लग जाती है ओर कुछ चोंटे बहुत ही गंभीर हो जाती है।

( gangrene ) ओर ये अगर कोई डाबिटीक पेशेंट ( सुगर का मरीज ) है तो उसका सारा दुनिया जहां एक ही जगह है। क्यों की जल्दी ठीक नहीं होता। ओर उसके लये कितनी भी कोशिश कर लें डाॅक्टर को काई बार सफलता नहीं मिलती।

ओर अंत में वो चोट धीरे धीरे गैंग्रीन ( gangrene ) में ( अंग का सड़ जाना ) में बदल जाती है।

ओर फिर वो अंग कात ना पड़ जाता है। सारीर से अलग करना पड़ता है ओर ये बहुत ही तकलीफ की बात होती है हर इंसान के लिए।

ऐसे इस्थिती में एक औषधि है जो की gangrene को भी थिक कर देती है।

औषधि का नाम है osteomyelites ( अस्थिमज्जा का प्रदाह ) को भी थिक करती है।

गैंग्रीन का मतलब अंग का सड़ जाना जहां कोशिकाएं विकसित न होती। ना तो मस में ओर ना तो हड्डियों में।

ओर सरी कोशिकाएं भी मर जाती हैं। इसका एक छोटा भाई है।

Osteomyelitis इसमें भी कोशिकाएं पुर्नजीवित नहीं होती।

जोड़ों के दर्द का आसान घरेलू आयुर्वेदिक उपचार कैसे करें

Home remedies for diabetes

बालों के झड़ने का इलाज, home remedies

किडनी के सभी बीमारियों का आयुर्वेदिक इलाज

जिस हिस्से में यह होता है वहां बहुत बड़ा घाव हो जाता है। ओर फिर वो ऐसा सड़ जाता है कि डॉक्टर कहता है कि इसको क।त के ही नकलना होगा। ओर कोई दूसरा उपाय नहीं है।

ऐसे परिस्थिति में जहां शरीर का कोई अंग क।त ना पड़ जाता हो। या संभावना हो।

Gangrene - किसी अंग के सर्ड जाने का सब से असरदार आयुर्वेदिक इलाज
Gangrene किसी अंग के सर्ड जाने का सब से असरदार आयुर्वेदिक इलाज

घाव बहुत बड गया हो तो आप उसके लिए औषधि अपने घरमे ही तैयार कर सकते है।

औषधि है देशी गाय का मूत्र लीजिए। ओर सुती के आठ प्रत कपड़े से छान लीजिए।

हल्दी लिजिए ओर गेंधे का फूल लीजिए।

जेंधे के पीले या नारंगी पंखरिया निकालना है।

ओर उसमे फिर हल्दी दाल कर गाय मूत्र दाल कर उसकी चटनी बननी है।

अब चोट या जख्म का आकार कितना है उसी के साइज के अनुसार गेंध के फूल की संखिया ते होगी।

मनले अगर चोट छोटी है तो एक फूल अगर बड़ी है तो 2 , 3, 4 यह अंदाजे से लेना है। इसकी चटनी बाना कर लगा लेना है।

जहां से भी बाहर यह चोट खुली हुई है।

जिससे खून निकल रहा है ओर थिक नहीं हो रहा है।

कितनी भी दवा खा रहे है ओर थिक नहीं हो रहा है।

थिक ना होने का एक कारण डायबिटीज भी है। ओर कोई जेनेटिक कारण भी हो सकता है।

इस औषधि को दिन में कम से कम दो बार लगाना है दवा लगा कर इसमें रूई की पत्ती बांध लीज्ये।

ताकी दवा का असर बॉडी पे रहे।

ओर शाम को जब दुबारा लगेंगे तो पहले वाला धोना होगा। इसको गौं मूत्र से ही धोना है।

डेटॉल या साबुन जैसी चीजों का इस्तमाल ना करें।

गाय के मूत्र को डेटॉल की तरह इस्तेमाल करें।

धोने के बाद चटनी लागा दे ओर फिर अगली सुबह ऐसा ही करे।

यह इतना प्रभावशाली है की आप सोच नहीं सकते।

देखेंगे तो चमत्कार जैसा लगेगा। यहां आप केवल पोस्ट पड़ रहे हैं।

मगर जब औषधि का प्रयोग करेंगे तो चमत्कार पता चलेगा।

ओर इस औषधि को हमेशा ताज़ा बनाके प्रयोग करना है।

अगर किसी का भी जख्म किसी भी दवा से ठीक नहीं हो रहा है तो

इस औषधि का प्रयोग करें। जो सोरायसिस गिला है।

जिसमे खून भी निकलता ही ओर पश भी निकलता है उसको भी यह औषधि पूर्ण रूप से थिक कर देती हैं।

अक्सर ये ऐक्सिडेंट के कैश में प्रयोग होता है। क्यूं कि ये तुरंत बहत।

खून रोक देता है ओर किसी भी ऑपरेशन के जख्म को भी थिक कर देता है।

गिला इक्कजीमा में यह औषधि बहुत काम करता है।

जले हुए जख्म में भी काम करता है।

दिल के सभी रोगों का आयुर्वेदिक इलाज

पेट के सभी रोगों के कारन और आसान घरेलु आयुर्वेदिक उपचार

पथरी का सबसे सरल आयुर्वेदिक ओर होम्योपैथी इलाज

Constipation or कब्ज का घरेलू आयुर्वेदिक उपचार

जाने आयुर्वेद के नियम अगर जिना है सुवास्थ जीवन

Rajji Nagarkoti

My name is Abhijeet Nagarkoti . I am 31 years old. I am from dehradun, uttrakhand india . I study mechanical. I can speak three languages, Hindi, Nepali, and English. I like to write blogs and article

This Post Has 12 Comments

  1. JanInigue

    Amoxicillin Treat Abscess [url=http://apcialisle.com/#]Cialis[/url] Acheter Viagra Net En Rouen Cialis Propecia Grandvalira

  2. JanInigue

    Xenical Achat [url=https://cheapcialisir.com/#]online generic cialis[/url] Effectiveness Of Keflex For Uti Cialis Cialis Mit Alkohol

  3. free v bucks

    Have you ever considered publishing an ebook or guest
    authoring on other blogs? I have a blog based on the same subjects you discuss
    and would love to have you share some stories/information. I know my viewers would enjoy your work.
    If you are even remotely interested, feel free to shoot me
    an e-mail.

Leave a Reply